Slide background
Slide background

अलास्‌का : स्पिर्‌इट ऑफ द वाइल्ड

७० मिमी का अकादमी पुरस्कार के लिए मनोनीत एक आकर्षक फिल्म जो सही मायने में वहाँ होने का एक सनसनी पैदा करता है।

यह फिल्म दर्श्कों को समुद्री यात्रा द्वारा अंतिम श्रेष्ठ सीमान्त पर ले जाती है, जहाँ प्रकृति की शानदार दृश्य आखों को मुग्ध कर देती है। अपनी आरमदायक सीटों से ही यह फिल्म दर्श्कों को भूरे भालू, बहुत ऊँचाइ तक उड़ने वाले गिद्ध, हिमनदी और खूरों पर दौड़ने वाले कारिबू के साथ दर्शन कराता है। पवित्र प्राकृतिक दृश्य, जंगली और अजीब जानवर और चरम मौसम जो प्रतिदिन आस पास के प्राकृतिक दृश्य को बदलता रहता है, Vमनोरंजक हास्यरस या प्रकृति प्रेमी की व्याकुलता के साथ वर्णित है।

alaska

अलास्‌का में जिवन की विविधता हजारों विशाल चल-चित्र के लिए सामग्री उपलब्ध कराने के लिए पर्याप्त है। हेरिंग शिकार करती हम्पबैक व्हेल हो या ह्वेल शिकार की वर्णन हो अलास्‌का वास्तविकता को चित्रित करती है। यह फिल्म भय और जिज्ञासा की संगत भावना व्याख्या करती है। हम कृतज्ञ हैं कि अलास्‌का सिर्फ शानदार जानवरों की सूची नही है बलकी यह फिल्म प्रकृति की विशुद्ध जंगली परिदृश्य को श्रद्धांजलि व्यक्‍त करती है।

यह अस्तित्व की चरम कहानी है जहाँ मौसम दर मौसम जीवन भयंकर परिस्थितियों और चुनौतियों पर विजय प्राप्त करती जा रही है। यह एक ऐसा स्थान है जो वर्तमान द्वारा दूषित है, पर यहाँ हम अपने जीवन से लुप्त हुए चेतना और शौन्दर्य को फिर से आविष्कार कर सकते हैं। हम अपने जीवन काल में कभी भी अलास्‌का तक पहूँचे या नही पर हम सभी जानना चाहेंगे कि ऐसी कोइ स्थल पृथ्वी पर मौजूद है। यह फिल्म चार्लटन हेस्टन की मर्मभेदी व्याख्या है।

निर्देशक जॉज केसी स्वेछाचारिता से अलास्‌का की उत्‍पत्ति का वर्णन करते हैं और फिर उसके शानदार इतिहास, आश्‍चर्यजनक वन्य जीव, वैभवपूर्ण प्राकृतिक भू-दृश्य, रुखा जल्वायु और स्थायी भावना का अन्वेषण करते हैं।

अफ्रिका: द सिरेनिटी फिल्म के निर्माता IMAX फिल्म निर्माण दल द्वारा इस फिल्म का निर्माण हुआ है। एक जैसे अतिविस्तृत भू-दृश्य, जो कि विशेष रुप सेI IMAX कि विशाल पर्दों वाले थिएटर के लिए अनुकूल है, और मनोरंजक वन्य जीव की दृश्यों को चित्रित किया गया है। पूरे निर्माण में हवाई चित्र और पानी के अंदर लिए गए चित्र कला का प्रयोग किया गया है।

साइंस सिटी, कोलकाता में बना भारत का पहला और सबसे बड़ा अंतरिक्ष थिएटर इस विशाल फिल्म को जनता के लिए २२ जनवरी २०१५ से ६ महिनों तक हर रोज ७ बार प्रदर्शित करेगी। अंटार्कटिका फिल्म में लगभग १९६००० पदार्पन लिपिबन्ध किया गया और ६० लाख से भी ज्यादा लोगों ने इस फिल्म को अब तक प्रत्यक्ष देखा है। आदर्श स्वरुप के रुप में बड़ी स्क्रीन प्रक्षेपण आज भी लोगों के बीच लोकप्रिय है।

स्थापना से लेकर आज तक लगभग २४ लाख दर्शकों ने साइंस सिटी, कोलकाता का दौरा किया है और कोलकाता के निवासी, राष्ट्रीय और अन्तरराष्ट्रीय आगंतुकों के लिए यह स्थल एक मुख्य आकर्षण रहा है। साइंस सिटी विज्ञान और प्रोद्योगिकी की स्फूर्तिप्रद और रोचक वातावरण प्रदान करती है जो कि हर उम्र के लोगों के लिए सही मयने में शैक्षिक और आनंददायक है। विज्ञान अन्वेषण कक्ष साइंस सिटी कोलकाता की लंबी प्रतीक्षित परियोजना शीघ्र ही पूरा होने वाला है और २०१५-१६ की द्वितीय तिमाही तक पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए श्री अमर चौधरी, शिक्षा अधिकारी से सम्पर्क करें।(मिबाइल- ९८३१११२१५६)